26 January Speech in Hindi ऐसे दीजिए 26 जनवरी पर भाषण, 2 मिनट में भर जाएगा जोश, खूब बजेंगी तालियां

26 January Speech in Hindi: गणतंत्र दिवस के मौके पर देश भर के स्कूलों, कॉलेजों और ऑफिसों आदि में खास कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। गणतंत्र दिवस के दिन शानदार भाषण से आप भी सबका ध्यान अपनी ओर खींच सकते हैं। 26 जनवरी 2024 को भारत 74 वर्ष पूरे कर अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा है, इस दिन से हमारे देश मे संविधान लागू हुआ।

आज हम यहां पर सभी एकत्रित होकर अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं। आज का दिन भारत गणतंत्र रूप में घोषित किया गया था। हमारा देश 200 वर्षों के बाद अंग्रेजी हुकूमत से आजाद होने के बाद 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू किया गया ताकि देश के सभी नागरिकों को अधिकार प्राप्त हो सके।

26 January Speech in Hindi
26 January Speech in Hindi

आज ही के दिन हमारा भारत डेमोक्रेटिव रिपब्लिक बना था। गणतंत्र का अर्थ होता है जनता का जनता के द्वारा शासन। यानी की जनता खुद ही अपने नेता का चयन कर सकती है। जनता के कहने पर ही चयनित नेता कार्य करेगा। जिन सेनानियों ने हमें अपना स्वराज्य वापस दिलाया है आज उन्हीं की बदौलत से हम आजाद है हम पर कोई भी जबरन काम करने के लिए दबाव नहीं डाल सकते।

इसे भी पढे: School Holidays in 2024 स्कूली बच्चों की हो गई मौज, छुट्टियों का कैलेंडर जारी, शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश

ऐसे में यदि आप एक छात्र हैं और स्कूल में आप 26 जनवरी पर हिन्दी मे भाषण प्रस्तुत करना चाहते हैं, आज के आर्टिकल में हम आपके साथ Speech On 26 January in Hindi जानकारी शेयर करेंगे ताकि आप भी अपने स्कूल में गणतंत्र दिवस पर भाषण हिन्दी मे (Republic Day Speech in Hindi) दे सकें चलिए जानते हैं:- 

26 January Speech in Hindi

प्रेरणा शहीदों से हम अगर नहीं लेंगे
आजादी ढलती हुई सांझ हो जाएगी
और यदि वीरों की पूजा हम नहीं करेंगे
सच मानो वीरता बांझ हो जाएगी

आदरणीय अतिथि महोदय, आदरणीय प्रधानाचार्य, सभी शिक्षकगण, अभिभावकगण और मेरे प्यारे दोस्तों, जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आज हम अपने देश का 75वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए यहां एकत्र हुए हैं। सबसे पहले, मैं आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। 26 जनवरी भारत का राष्ट्रीय त्यौहार है।

हम हर साल 26 जनवरी को भारत में गणतंत्र दिवस मनाते हैं क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। हम 1950 से लगातार भारतीय गणतंत्र दिवस मनाते आ रहे हैं क्योंकि 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ था।

गणतंत्र का अर्थ है देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति और केवल लोगों को ही देश को सही दिशा में ले जाने के लिए राजनीतिक नेताओं के रूप में अपने प्रतिनिधियों को चुनने का अधिकार है। इसलिए, भारत एक गणतंत्र देश है जहां लोग अपने नेता को प्रधान मंत्री के रूप में चुनते हैं ।

इसे भी पढे: Republic Day 2024 Image गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के लिए खास और शानदार इमेज अपने नाम व फ़ोटो के साथ मोबाईल से ऐसे बनाएं, दोस्तों को भेजकर दे बधाई

हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में “पूर्ण स्वराज” के लिए बहुत संघर्ष किया। उन्होंने अपना जीवन बलिदान कर दिया ताकि उनकी आने वाली पीढ़ी को संघर्ष न करना पड़े। भारत एक लोकतांत्रिक देश है जहां लोगों को देश का नेतृत्व करने के लिए अपना नेता चुनने का अधिकार है।

डॉ. राजेंद्र प्रसाद भारत के पहले राष्ट्रपति थे। 1947 में ब्रिटिश शासन से आजादी मिलने के बाद से हमारा देश काफी विकसित हुआ है और सबसे शक्तिशाली देशों में गिना जाता है। विकास के साथ-साथ कुछ कमियाँ भी पैदा हुई हैं जैसे असमानता, गरीबी, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अशिक्षा आदि।

अपने देश को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ देश बनाने के लिए हमें समाज में मौजूद ऐसी समस्याओं का समाधान करने का आज संकल्प लेने की आवश्यकता है। अब, मैं इन शब्दों के साथ अपना भाषण समाप्त करने जा रहा हूं, बहुत-बहुत धन्यवाद।

जय हिन्द जय भारत!

इस वेबसाइट पर आपको सरकारी नौकरी, शिक्षा समाचार, सरकार की सभी योजनाएं सभी ब्रेकिंग न्यूज़ की अपडेट सबसे पहले उपलब्ध करवाई जाती है। अभी हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़े: Click Here

Leave a Comment